10 दिन में हेपेटाइटिस का पक्का इलाज | Hepatitis Kaise Failta Hai | Hepatitis Kaise Hota Hai.

10 दिन में हेपेटाइटिस का पक्का इलाज | Hepatitis Kaise Failta Hai | Hepatitis Kaise Hota Hai - हेपेटाइटिस का इलाज इसके लक्षण, और कारण, तोआप बिलकुलसही जगहपर होक्योंकि यहाँआपको मिलेगाएक कारगरऔर अचूकसमाधान  -
10 दिन में हेपेटाइटिस का पक्का इलाज | Hepatitis Kaise Failta Hai | Hepatitis Kaise Hota Hai.
Hepatitis ka ilaj

तो चलिए बातकर लेतेहै हेपेटाइटिसकी - देखियेयह एकलिवर डिजीजहै यदिहम इसेबीमारी नाकह करएक कंडीशनकहें तोज्यादा बेहतरहोगा क्योंकियह एकतरह कासंक्रमण (infection) होता हैजो कईकारकों कीवजह सेहोता हैजिसके कारणलिवर मेंसूजन होजाती हैऔर मरीजमें कईसारी असामान्यताएंदेखने कोमिलती है।
इसकी तीन अवस्थाएंहोती हैहेपेटाइटिस a हेपेटाइटिस b और हेपेटाइटिस c जिनमेसे हेपेटाइटिसc के मरीजइन दोनोंकी तुलनामें कमहोते हैसाथ हीहेपेटाइटिस a एक अक्यूट इन्फेक्शन होताहै जोकम समयके लिएहोता हैलेकिन जबयह मरीजके अंदरज्यादा दिनोंतक रहताहै तोहेपेटाइटिस b का रूप ले लेताहै औरपहले सेअधिक घातकहो जाताहै, यदिहेपेटाइटिस b का समय पर इलाजना कियाजाये तोयह लिवरसिरोसिस मेंबदल जाताहै जिसमेलिवर डैमेजहो जाताहै औरयह जानलेवाभी साबितहो सकताहै। इसकेलक्षण 4 - 5 महीने में दिखाई देतेहैं।

10 दिन में हेपेटाइटिस का पक्का इलाज | Hepatitis Kaise Failta Hai | Hepatitis Kaise Hota Hai.

यह एक संक्रामकबीमारी हैजो एकव्यक्ति सेदूसरे व्यक्तिमें आसानीसे फ़ैलजाती है।
वर्तमान समय मेंलगभग पूरीदुनिया मेंलगभग 3 अरबलोग इसबीमारी केशिकार हैंवही भारतमें इसकीसंख्या लगभग3 करोड़ है।

{और पढ़ें - 1 महीने में वजन कैसे बढ़ाये}

हेपेटाइटिस a और b केलक्षण {Hepatitis Kaise Hota Hai} -

हेपेटाइटिस एक ऐसीबीमारी हैजो विकाशसीलदेशों मेंअधिक पायीजाती हैइसके तीनप्रकार होतेहै जिनमेसे हेपेटाइटिसबी ज्यादाघातक औरजानलेवा होताहै इनसभी कासंचार एकवायरस केमाध्यम सेहोता हैजो हमारेलिवर कोनुकसान पहुंचाताहै इसकेमरीज मेंबहुत सेलक्षण दिखाईदेते हैंजैसे की-
लिवर में सूजनहोना (oedema)पेट में हमेशा दर्दरहना। (liver pain)पीलिया कीशिकायत होना।/(jaundice)आँखें औरत्वचा कापीला पड़जाना। (pale skin)व्यक्ति केशरीर मेंअधिक कमजोरीका जाना। (weakness)खाने को देखकर मितलीआना याउल्टियां करना।(nausea and vomiting)पूरे बदन कादर्द करनाविशेष करजोड़ों मेंदर्द रहना।(whole body pain)भूख नहीं लगना।(loss of apatite)सिरदर्द और बुखारका रहना।(headache)प्रतिरक्षा कम होजाने सेकई रोगोंसे घिरजाना, जैसेबहुत सारेलक्षण दिखाईदेते है।

{और पढ़ें - पथरी का पक्का इलाज}

हेपेटाइटिस a और b केकारण {Hepatitis Kaise Failta Hai} -

  1. यह एक जीवाणुजनित संक्रामकरोग हैजो एकव्यक्ति सेदूसरे मेंआसानी सेपहुँच जाताहै यहज्यादातर दूषितऔर गंदेपानी मेंपैदा होताहै जोकिसी केभी संपर्कमें आनेपर उसेसंक्रमित करदेता हैइसके बहुतसे कारणसामने आतेहै जैसेकी -
  2. दूषित पानी औरभोजन काप्रयोग करना।
  3. संक्रमितव्यक्ति केनिजी संपर्कमें आना। (यौ- सम्बन्ध बनाना)
  4. -राबऔर अल्कोहलका ज्यादाuse करना।
  5. समलिंग के साथ सम्बन्ध बनाना।
  6. संक्रमितव्यक्ति कीनिजी वस्तुओंको काममें लेना।
  7. संक्रमितसुई, सिरिंजआदि काइस्तेमाल करना।
  8. असुरक्षितयौ-सम्बन्ध स्थापितकरना।
  9. संक्रमित व्यक्ति के शारीरिक द्रव्यके संपर्कमें आना।शरीरकी अच्छेसे साफ़सफाई नारख पाना।
  10. संक्रमितव्यक्ति केकाटने पर।
  11. संक्रमितमाँ सेअपने बच्चेमें स्वतःही संक्रमणहोना। जैसेबहुत सारेकारन हैंजो कीहेपेटाइटिस a और b के लिए जिम्मेदारहैं।

हेपेटाइटिस a और b काइलाज {10 din me hepatitis ka pakka ilaj}

वैसे तो अगरहेपेटाइटिस का इलाज नाकिये जायेतो यहस्वतः भीठीक होजाती हैलेकिन कईबार संक्रमणज्यादा होनेपर यहक्रोनिक रूपधारण करहेपेटाइटिस बी की श्रेणी में जातीहै औरघातक औरएक जानलेवाबीमारी केबन जातीहै तोइसके लिएहम आपकोकुछ घरेलुउपाय औरटिप्स देरहे हैजिनका प्रयोगकरके दोनोंही तरहके हेपेटाइटिसको ख़त्मकिया जासकता है।
{और पढ़ें - हमेशा स्वस्थ कैसे रहें}

जैतून की पत्ति: (olive leaf)

जैतून की पत्तिमें फाइटोकैमिकलनाम काएक तत्वपाया जाताहै जिसमेंमजबूत एंटीवायरलऔर एंटीफंगलगुण मौजूदहोते हैं, एक कपपानी मेंएक चम्मचसूखी जैतूनकी पत्तिको 10-15 मिनटतक बॉईलकरें औरफिर इसेछानकर दिनमें तीनबार पीएं, जैतून कीपत्ति कीजगह बाजारमें उपलब्धओलिव लीफके 500mg. कैप्सूल का भी उपयोगकिया जासकता है।

लहसुन: (garlic)

लहसुन (garlic) में मेटाबोलाइट्सऔर एमिनोएसिड भरपूरमात्रा मेंपाया जाताहै जोहेपेटाइटिस और बी केवायरस कोतेजी सेखत्म करनेमें हेल्पकरता है, कच्चे लहसुनको चबाचबा करखाने सेसभी तरहकी हेपेटाइटिसख़त्म होतीहैं।

आंवला: (Gooseberry)

आंवले (gooseberry) में जीवाणुरोधी एंटीवायरलप्रॉपर्टी पायी जाती है, हेपेटाइटिसबी सेछुटकारा पानेके लिएआप आंवलेके रसमें शहद(honey) मिलाकर दिन में कई बारइसका उपयोगकरें।
इसके अलावा आंवलेके रसको पानीमें मिलाकरइसका सेवनकरें यासूखे आंवलेपावडर मेंशक्कर मिलाकर20-25 दिनों तक दिन में दोबार खाएं।
{और पढ़ें - फेफड़ों के कैंसर का आयुर्वेदिक इलाज}

चुकंदर: (sugar beets)

इसमें पर्याप्त मात्रामें आयरन, पोटैशियम, फोलिक एसिड,  कैल्शियमऔर कॉपरके अलावाविटामिन a, b और c पायी जाती है, ये सभीमिनरल्स लीवरमें क्षतिग्रस्तकोशिकाओं कापुनः निर्माणकर सूजनऔर दर्दसे राहतदिलाते हैं, दो गिलासचुकंदर काजूस रोजानापीने सेपीलिया (jaundice) में जल्दीआराम मिलताहै।

हल्दी: (turmeric)

हल्दी लिवर केलिए सुरक्षाकवच कीतरह कार्यकरती हैऔर इसमेंमौजूद एंटीऑक्सीडेंटलीवर सेजुड़ी कईतरह कीबीमारियों से हमें बचाती है, खाना पकातेसमय हल्दीका ज्यादाइस्तेमाल करनेसे इसबीमारी सेबचा जासकता है।
{और पढ़ें - सदा जवान रहने का तरीका}

नीम: (Azadirachta indica)

नीम में मौजूदएंटीवायरल गुण लीवर में उत्पन्नहोने वालेजहरीले पदार्थोंको डिस्ट्रॉयकर देताहै, नीमके पत्तियोंको अच्छीतरह सेधोकर इसकाज्यूस निकालेंऔर लगभग30 गम रसमें 15 गमशहद मिलाकरएक हफ्तेतक रोजसुबह खालीपेट उपयोगकरें।

अदरक: (Ginger)

अदरक (ginger) की चायरोज पीनेसे हेपेटाइसिसa और b सेनिजात पायीजा सकतीहै, खानाखाने केबाद अदरकके रसका उपयोगकरना ज्यादाहेल्पफुल होताहै।

मुलेठी (Muleti)

मुलेठी (muleti) में एंटीवायरलऔर एंटीऑक्सीडेंटप्रॉपर्टी पायी जाती है, जोहेपेटाइसिस और बी केवायरस कोखत्म करदेता है।
{और पढ़ें - गुड़हल के फूलों का तेल कैसे बनाये}

हेपेटाइटिस a और b सेबचाव -

  • हेपेटाइटिस एक घातक बीमारी है जिससे बचाव किया जाना ही बेहतर होता है अतः निचे बताई गई सावधानियों और बचावों को कभी भी नजरअंदाज ना करें, क्योंकि इन जरुरी टिप्स का ध्यान रख कर आप बहुत सी कंडीशन का अंत कर सकते हो -
  • हमेशा स्वच्छता (हेल्थी लाइफ स्टाइल) का पालन करे हेल्थी रहें और स्वच्छ आहार ग्रहण करें।
  • संक्रामक (इन्फेक्टेड)व्यक्ति के शारीरिक द्रव्यों (बॉडी फ्लूइड) से दूरी बनाए रखें।
  • सब्जियों और फलों (फ्रूट्स) का सेवन धो कर ही करें।
  • दूषित और गंदे वातावरण में किसी भी चीज का सेवन ना करे।
  • हेपेटाइटिस का टीका जरूर लगवाएं।
  • घर के आसपास खुले में शौच ना करें और घर के आसपास से गन्दगी दूर रखें।
  • एक से अधिक महिलाओ के साथ सम्बन्ध बनाने से बचें।
  • दूसरे द्वारा इस्तेमाल की गई चीजों का प्रयोग शुध्दिकरण करके ही करें।
  • श-राब आदि के सेवन से बचें।बच्चे में हेपेटाइटिस का टीका अवश्य लगवाएं।
  • नियमित रूप से जाँच करवाते रहे और अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। यदि आप इन सभी चीजों का ध्यान रखते हो तो आपमें किसी भी तरह का हेपेटाइटिस टिकने वाला नहीं है।
{और पढ़ें - घुटनो के दर्द या घटिया का पक्का इलाज}
    10 दिन में हेपेटाइटिस का पक्का इलाज | Hepatitis Kaise Failta Hai | Hepatitis Kaise Hota Hai. 10 दिन में हेपेटाइटिस का पक्का इलाज | Hepatitis Kaise Failta Hai | Hepatitis Kaise Hota Hai. Reviewed by Doctor B. on November 17, 2018 Rating: 5

    No comments:

    Powered by Blogger.